Skip to content

बेहतर धन प्रबंधन के लिए 10 यथोचित आदतें


जिस तरह से आप अपने व्यक्तिगत वित्त का प्रबंधन करते हैं इससे निर्धारित होता है की आप आगे बढ़ेंगे या पीछे रह जाएंगे।

अधिक सफल बनने के लिए, स्वस्थकर पैसों से संबंधित व्यवहारों को अपनाना शुरू करें। ये एक संतुलित आहार खाने और पर्याप्त विटामिन डी लेने से कम महत्वपूर्ण नहीं हैं।

इस लेख में, हमने सबसे अच्छे पैसा प्रबंधन युक्तियां एकत्र की है। वे कॉलेज के छात्रों, वयस्कों और वरिष्ठों सहित सभी आयु वर्ग के लोगों के लिए लाभदायक है।

यह देखने के लिए पढ़ते रहें कि आप क्या गलत कर रहे थे और इसे कैसे ठीक किया जा सकता है।

 

#1: अपने ऋण का सामना करें

अपने कर्ज को खत्म करने का पहला कदम यह है कि इसका सामना किया जाए। आपको उस राशि के बारे में पता होना चाहिए जो आप पर बकाया है। यह चिंताजनक लगता है, लेकिन समस्या की अनदेखी कर आप कहीं नहीं पहुंच पाएंगे।

उन लोगों और संस्थानों की सूची बनाइए, जिन्हें आपको पैसे देने हैं। क्रेडिट कार्ड, उपभोक्ता ऋण, व्यक्तियों ー सब कुछ मायने रखता है।

फिर, गणना करें कि आपको दंड से बचने के लिए मासिक कितना भुगतान करना ज़रूरी है। कम से कम न्यूनतम भुगतान को पूरा करना आवश्यक है। सामान्यत:, आपको एक बड़ा प्रतिशत देने में सक्षम होना चाहिए: न्यूनतम भुगतान से कम चुकता करने से आपको वर्षों तक ऋण को चुकाते रहना पड़ेगा।

यदि आपका नकदी प्रवाह ऋणों का प्रबंध करने के लिए पर्याप्त नहीं है, तो उन व्यवहारों को बदल डालें जो आपको ऋण में डाल रहे हैं और अतिरिक्त पैसा कमाने के तरीकों के बारे में सोचें। अपने जीवन शैली को व्यावहारिक बनाएं, क्रेडिट कार्ड में कटौती करें, एक बेहतर-वेतन वाली नौकरी या वैकल्पिक आय श्रोत खोजें।

 

#2: अपनी मासिक आय निर्धारित करें

बहुत से लोग इस बात से अनजान होते हैं कि वे कितना पैसा कमाते हैं। यह एक बड़ी समस्या है। अपने नकदी प्रवाह को कुशलता से प्रबंधित करने के लिए, आपको यह जानना होगा कि यह प्रवाह कितना बड़ा है, यह कहां से उत्पन्न होता है, और यह कहां जा रहा है।

सभी धन जो आप प्राप्त करते हैं, जैसे कि गिग्स (कार्यों), बोनस, लाभांश (डिविडेंड्स), विज्ञापन आय, ट्रेडिंग लाभ, और अन्य प्रकार की आय, बड़ी और छोटी। करों को काटना न भूलें।

अब, आप समझ पाएंगे कि आप कितना कमाते हैं। अब यह देखना है कि यह धन कहां जाएगा।

 

#3: यथोचित धन के व्यवहार

यदि आप अपने धन को बुद्धिमानी से प्रबंधित करते हैं, तो खर्च को ट्रैक करने को समझना महत्वपूर्ण है। हम में से कई लोग बजट बनाने से बचते हैं क्योंकि हम इसे बाधाजनक और तनावपूर्ण के रूप में देखते हैं। आखिरकार, यह प्रक्रिया हमें अपने अति-खर्चीले व्यवहार का सामना कराता है और उन चीजों को छुड़ाता है जिनका हमें आनंद मिलता है, है न? इसके अलावा, बजट उबाऊ कागजी कार्रवाई होने के कारण हमें पसंद नहीं आते हैं।

यदि आपका दृष्टिकोण यह है, तो आपको अपनी प्रवृत्ति बदलाव की आवश्यकता है। आप धन की बर्बादी को कम करने के लिए खर्चों पर नज़र रखते हैं, न कि अपने आप को जीवन के सबसे बड़े सुख से वंचित करने के लिए। रिसाव को रोक कर, आप अधिक पैसों को वहां लगा सकते हैं जहाँ आप लगाना चाहते हैं |

 

#4: आधुनिक तकनीक का उपयोग करें

गणना की बात करें तो अब पेन-एंड-पेपर विधि का उपयोग करने की कोई आवश्यकता नहीं है। इसके बजाय, नवीनतम बजट सॉफ़्टवेयर का लाभ उठाएं जो उपयोगी वित्त-ट्रैकिंग टूल का संग्रह प्रदान करता है।

आज, मिलेनियल्स के लिए उत्कृष्ट मनी मैनेजमेंट (धन प्रवंधन) ऐप्स उपलब्ध हैं। वे आपके निवेशों पर नज़र रखने, आपकी खर्च करने की आदतों का विश्लेषण करने और बेहतर वित्तीय निर्णय लेने को आसान बनाते हैं। उदाहरण के लिए, कुछ एप्लिकेशन आपको विभिन्न वर्गों में साप्ताहिक खर्च सीमा निर्धारित करने की अनुमति देते हैं, स्वचालित रूप से आपकी आपातकालीन बचत के लिए अतिरिक्त धनराशि स्थानांतरित करते हैं, या आगामी खर्चों का अनुमान लगाते हैं।

सबसे अच्छे एप्लिकेशन बेहद उपयोगकर्ता के अनुकूल हैं और अनुकूलन के लिए कई सेटिंग्स हैं। हमेशा प्रीमियम ऐड-ऑन (अतिरिक्त सेवाओं) के लिए भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है, एक मुफ्त टूलकिट अक्सर पर्याप्त होता है।

 

#5: अपनी प्राथमिकताओं और अपने लक्ष्यों को स्पष्ट करें

आपके हाथों से बहुत सारा पैसा फिसल जाता है क्योंकि आपको पता नहीं होता है कि आपके जीवन के लक्ष्य और प्राथमिकताएं क्या हैं। एक बड़े लक्ष के बिना, आप बेकार की चीज़ों पर बहुत अधिक धन बर्बाद कर सकते हैं।

फिर से, लक्ष्य-निर्धारण का मतलब भविष्य में अधिक अच्छी चीज़ों के लिए छोटी खुशियों को रोकना नहीं है। इसके विपरीत, यह आपको समझने में मद्दत करता है कि क्या महत्वपूर्ण है और किन चीज़ों पर ध्यान केंद्रित करना ज़रूरी है।

यह एक बड़ा घर हो सकता है, आपके बच्चों के लिए एक प्रथम श्रेणी की शिक्षा, एक विश्व भ्रमण, आपका स्वयं का व्यवसाय या जल्दी सेवानिवृत्ति, आप इसे जो कुछ भी नाम दे सकते हैं। एक बार जब आप अपने लक्ष्य में पूर्ण रूप से स्पष्ट हो जाते हैं, तो बेफज़ूल खर्च अपने आप ही कम हो जाएगा।

 

#6: एक योजना विकसित करें (और इसके साथ बने रहें)

अब जब आप जानते हैं कि आप कितना कमाते हैं और कितना खर्च करते हैं और आप क्या हासिल करना चाहते हैं, तो योजना बनाने का समय आ गया है।
एक योजना बनाने का मतलब है कि अपने खर्चों को अपने लक्ष्यों के साथ संरेखित (अलाइन) करना और अपनी गैर-ज़रूरत की चीज़ों में खर्च की कटौती करना। उदाहरण के तौर पर, यदि आप एक महत्वाकांक्षी डिजाइनर हैं, तो आप एक बड़े उच्च-रिज़ॉल्यूशन मॉनिटर या बेस्ट-इन-क्लास (बाजार में सर्वश्रेष्ठ) ग्राफिक सॉफ़्टवेयर पर अधिक पैसा खर्च करना चाहेंगे। या, यदि आप एक व्यापारी हैं, तो आप एक तेज लैपटॉप और एक गहन ट्रेडिंग कोर्स में निवेश करना चाहेंगे।

यह तय करना है कि आपको किन चीज़ों में कटौती करनी है। आप कभी भी उपयोग नहीं होने वाले सदस्यता को रद्द करके और सदस्यता को जारी ना रखके या उड़ानों में इकॉनमी-श्रेणी में यात्रा करके या टैक्सी के बजाय ट्रेन का उपयोग करके बहुत सारे पैसे बचा सकते हैं।

 

#7: जल्दी बचत करना शुरू करें

जीवन में जल्दी बचत करने के बहुत फायदे होते हैं। यदि आपके पैसों को बढ़ने के लिए बहुत समय मिलता है, तो आप कंपाउंड ब्याज का लाभ उठा सकते हैं।

छोटे से शुरू करें। अपनी सैलरी से हर महीने X डॉलर बचाने की आदत डालें। जल्द ही, आप इसे स्वचालित रूप से कर रहे होंगे।

एक और तरकीब यह है की स्पष्ट लक्ष्य को ध्यान में रखें (नंबर 4 देखें)। यह इच्छा सूची (विश लिस्ट) बनाना ही पर्याप्त नहीं है। अपने लक्ष्य को विस्तार से कल्पना करें, इसे भावनाओं के साथ उर्जित करें, इसमें डूब जाएं। इस प्रकार, आप अपने भविष्य से भावनात्मक रूप से जुड़ जाएंगे।

 

#8: एक आपातकालीन निधि रखें

हमेशा एक आपातकालीन निधि रखें। यह कम से कम 4 महीनों के लिए अत्यावश्यक चीज़ों पर खर्च होने चाहिए, जिसमें किराया, भोजन, जनोपयोगी सेवा बिल, परिवहन खर्च आदि शामिल हैं।
बहुत से लोग मुश्किल दिनों के लिए बचत नहीं करते हैं: कुछ का कहना है कि मुश्किल दिन अभी है, अन्य लोग अपने क्रेडिट कार्ड या आसानी से सुलभ ऋण पर निर्भर रहते हैं। लेकिन आप उससे ज्यादा बुद्धिमान हैं।
आपातकालीन फंड होने से आप निश्चिन्त रह सकते हैं। जब आपके पास कोई बचत नहीं होती है, तो कठिन परिस्थिति में तत्काल जीविकोपार्जन आपकी सर्वोच्च प्राथमिकता बन जाती है। यह खराब वित्तीय फैसलों की ओर जाता है जो आपको महंगा पड़जाता है।

एक आपातकालीन निधि बनाना शुरू करने के लिए, अपने बजट पर पुनर्विचार करें और कुछ ऐसी चीजों का त्याग करें जिनकी ज़रूरत इतनी नहीं है और आप इसके बगैर जी सकते हैं। उदाहरण के लिए, यदि आप अभी यात्रा नहीं कर सकते हैं, तो इस यात्रा के निमित्त पैसे को नया टीवी खरीदने के बजाय बचत करें।

 

#9: फ्री मनी (मुफ्त) के लिए देखें

अपनी जरूरत की चीजों के लिए कम भुगतान करने के तरीके खोजें या उन्हें मुफ्त में प्राप्त करें।
आज, हमारे पास बहुत सारे बचत के अवसर हैं जिनके बारे में हम जानते भी नहीं हैं। यहाँ कुछ ज्ञानपूर्ण सुझाव दिए गए हैं:

  • ऑनलाइन खरीदारी करते समय, छूट, कैशबैक, कूपन और विशेष ऑफ़र पर नज़र रखें। अन्य दुकानों में कीमतों की जाँच करें सुनिश्चित करें कि वास्तबिक मूल्य स्टिकर और छूट सच्चे हैं।
  • जांचें कि क्या आपका नियोक्ता यात्रा या जीवन बीमा, महंगी सेवाओं के लिए सदस्यता, शैक्षिक पाठ्यक्रम या जिम सदस्यता जैसे खर्चों को समावेश करता है। अपनी नौकरी के सभी लाभों की जानकारी लें ー वे आपके परिश्रम द्वारा अर्जित कुछ नकदी बचा सकते हैं।
  • जो आप चाहते हैं उसे कम में पाने के लिए बोनस और प्रोमो कोड के लिए देखें। इनमें से अधिकांश ऑफर सिमित-समय के लिए होते हैं, इसलिए आप तुरंत कार्रवाई करें और इसे समाप्त होने से पहले अवसर को हड़प लें |
  • सरकार से जो बकाया है उसे हासिल करें। कभी-कभी कर लाभ, ऋण सहायता, और धनवापसी (रिफंडस) को लोग नहीं ले पाते हैं, इसलिए कि उन्हें इसके बारे में कुछ भी जानकारी नहीं होती है। यदि आपको लगता है कि आप वित्तीय सहायता के लिए पात्र हो सकते हैं, तो जानकारी की आवश्यकता है।

 

#10: अपने फंड को काम पर लगाएं

जैसा कि हम जानते हैं कि मुद्रास्फीति समय के साथ आपकी बचत को खा डालेगी, भले ही आप अपेक्षाकृत स्थिर मुद्रा जैसे कि USD के बारे में बात कर रहे हैं। इसलिए, अपने धन को सीमित ब्याज दरों के साथ बचत खाते में ना रखें। इसके बजाय, अपने लिए अधिक धनराशि उत्पन्न करने के लिए अपने धन के एक हिस्से का उपयोग करें।
ऐसे 2 तरीके हैं जिनसे आप अपना “सक्रिय धन (active money)” को काम पर लगा सकते हैं:

  • निवेश करके
    आप कुछ परिसंपत्ति खरीदते हैं और कीमत बढ़ने तक इसे ग्रहण करते हैं। इस प्रक्रिया में महीने, साल या कई दशक लग सकते हैं, इसलिए परिसंपत्ति को आपके लक्ष्य और निवेश सीमा से मेल खाना चाहिए।
  • ट्रेडिंग करके
    इस मामले में, आप किसी परिसंपत्ति के साथ दीर्घकालिक संबंध नहीं रखते हैं। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि इसकी कीमत ऊपर या नीचे जाती है क्योंकि आप दोनों गतिविधियों को भुनाने में सक्षम हो सकते हैं। सूत्र यह है कि आवश्यक तकनीकी विश्लेषण टूल्स में महारत हासिल करना और ब्रोकरेज खाता खोलना। 

Olymp Trade, एक मान्यता प्राप्त बाजार के अग्रणियों में से एक, एक सहज नौसिखिए-अनुकूल इंटरफेस, टूल्स का एक व्यापक संग्रह, और पारंपरिक और डिजिटल मुद्राओं सहित परिसंपत्ति की एक विस्तृत विविधता प्रदान करता है।

 

निष्कर्ष

यदि आप अभी भी मनी मैनेजमेंट (धन प्रबंधन) को तनावपूर्ण और उबाऊ समझते हैं, तो यह रवैया बदलने का समय आ गया है।

बचत करना, बजट बनाना, खर्च में कटौती करना, खरीदारी की योजना बनाना, निवेश करना और ट्रेडिंग करना वास्तव में रोमांचक और सशक्त हो सकता है। हमारे अत्यधिक-सुविधाजनक अनुकूलन (कस्टमाइजेबल) योग्य इंटरफ़ेस युक्त स्मार्ट ऐप्स को जटिल और समय लेने वाले कार्य सौंप दें।

यदि आप ट्रेडिंग आजमाना चाहते हैं, तो Olymp Trade पर एक खाता बनाने के साथ शुरू करें।

Education