Forex

Forex ट्रेडिंग के महत्वपूर्ण कारक

ट्रेडर को Olymp Trade Forex में ट्रेडिंग करते वक्त क्या ध्यान देने चाहिए


चाहे आप पहले से ही Olymp Trade में Forex बाजार में निवेश कर रहे हैं या आप शुरू करना चाहते हैं, आपके ट्रेडों को अधिक सफल बनाने के लिए कई बातों पर विचार करना और समझना ज़रूरी है। हालांकि मुद्रा जोड़े के साथ Forex ट्रेडिंग अत्यधिक जटिल प्रतीत हो सकता है, और यह कुछ हद तक है भी, ट्रेडर अपने ट्रेडिंग परिणामों को बेहतर बनाने के लिए कई विभिन्न तरीकों का उपयोग कर सकते हैं।

 

प्रत्येक कारक जो मुद्रा ट्रेडिंग को प्रभावित करता है वह अत्यंत जटिल हो सकता है, लेकिन इन सभी जटिलताओं को अत्याधिक गहराई से जानने की आवश्यकता नहीं है। हालांकि, एक अच्छी Forex बाजार जानकारी प्राप्त करना और बेहतर ट्रेडिंग निर्णय लेने में मदद हेतु एक अच्छी समझ पर्याप्त होगी।

Forex बाजारों में निवेश करते समय ट्रेडर को इन चीजों पर विचार करना चाहिए जो औसत निवेशकों की मदद करने के लिए सरल शब्दों में व्याख्या की गई हैं।

 

1. ब्याज दरें मुद्रा मूल्य को कैसे प्रभावित करती हैं

लगभग हर देश की ब्याज दरें उस देश के “केंद्रीय बैंक” द्वारा निर्धारित की जाती हैं। संयुक्त राज्य में, वह अधिकार अमेरिकी फेडरल रिजर्व बैंक के निहित है, और प्रत्येक संस्थान के नाम अलग-अलग होते हैं, लेकिन वे बस्तुत: एक ही काम करते हैं, जो कि राष्ट्रीय ब्याज दर को निर्धारित करना है।

यह ब्याज दर वह दर नहीं है जो बैंक ग्राहकों से घरों, कारों या कारोबार शुरू करने के लिए उधार लेते हैं। इसके बजाय, यह ब्याज दर वह है जो बैंक एक-दूसरे को ऋण के लिए एक-दूसरे से लेते हैं। जी हां, बैंक भी अन्य संघीय आवश्यकताओं की पूर्ती करने के लिए निरंतर एक-दूसरे से पैसे उधार लेते हैं, लेकिन यह विषय किसी और समय के लिए है।

ऊंची ब्याज दरें मुद्रास्फीति को कम करने में मदद करती हैं जबकि कम दरें व्यावसायिक गतिविधि को बढ़ाने में मदद करती हैं। ब्याज दरों के बारे में जारी की गई कोई भी समाचार अक्सर Forex और शेयर बाजारों को प्रभावित करेगा और ब्याज दर में परिवर्तन प्रत्यक्ष उस देश के मुद्रा मूल्य को प्रभावित करेगा। आप Olymp Trade के प्लेटफ़ॉर्म के इनसाइट्स खंड में कई समाचार अपडेट प्राप्त कर सकते हैं जैसे नीचे की छवि में दिखाई गई है, लेकिन आमतौर पर समाचार स्रोतों का संयोजन करना सबसे अच्छा होता है।

 

2. सामान्य आर्थिक परिस्थिति कैसे मुद्राओं को प्रभावित करती है

किसी देश की अर्थव्यवस्था की ताकत पर इस बात का बड़ा असर होता है कि उस देश की मुद्रा का अन्य मुद्राओं के मुकाबले कितना महत्व है। एक ठोस या बढ़ती अर्थव्यवस्था वाला देश अधिक माल और सेवाएँ खरीदने की क्षमता रखता है और अपने धन को अधिक मात्रा में सञ्चालन (सर्कुलेशन) में रखता है। यह बदले में, मुद्रा की कीमत को प्रभावित करेगा।

किसी देश की अर्थव्यवस्था कितना अच्छा प्रदर्शन कर रही है दर्शाने के लिए कई मासिक, त्रैमासिक और वार्षिक रिपोर्टें होती हैं। इन रिपोर्टों में सबसे महत्वपूर्ण है सकल घरेलू उत्पाद (GDP) और ट्रेडर को संयुक्त राज्य, चीन और यूरोपीय संघ जैसे प्रमुख देशों के सकल घरेलू उत्पाद की वृद्धि पर जारी किसी भी समाचार पर ध्यान देने की सलाह दी जाती है।

इसके अतिरिक्त, बेरोजगारी के आंकड़े, उपभोक्ता का विश्वास, और मुद्रास्फीति की रिपोर्टें forex बाजारों को सीधे प्रभावित कर सकती हैं।

 

3. राजनीतिक उथल-पुथल और सैन्य संघर्ष प्रति अवगत रहें

किसी भी देश या क्षेत्र में राजनीतिक और सैन्य उथल-पुथल अन्य देशों और क्षेत्रों पर सार्थक प्रभाव डाल सकती है जो संघर्ष से सीधा संबंध नहीं रखते हैं। हालांकि, हम एक वैश्विक अर्थव्यवस्था में रहते हैं और दुनिया दिन प्रतिदिन छोटी और अधिक जुड़ती जा रही है।

ऊपरी स्तर की राजनीतिक स्थितियों पर और किसी भी संभावित सैन्य संघर्ष के समाचार पर नज़र रखें और सक्रिय रूप से सवाल पूछें और जवाब मांगें कि ये चीजें दुनिया में ट्रेडिंग को कैसे प्रभावित कर सकती हैं।

उदाहरण के लिए, म्यांमार जैसे छोटे देश में राजनीतिक उथल-पुथल चीन के साथ व्यापार पर प्रभाव डाल सकती है क्योंकि म्यांमार चीन के लिए प्राकृतिक गैस का बड़ा निर्यातक है। चीनी निर्माताओं के लिए किसी भी बढ़ी हुई ऊर्जा लागत बाजार की कीमतों और दूसरों के लिए न्यून लाभप्रदता बढ़ा सकती है। जैसा कि आप सोच सकते हैं, यहां तक ​​कि कुछ छोटे लहर भी काफी आर्थिक तरंगों का निर्माण कर सकते हैं।

 

4. आधारभूत और तकनीकी विश्लेषण को मिलाएं

कुछ नए ट्रेडर पूछ सकते हैं कि “बाजार विश्लेषण क्या है” और “आधारभूत और तकनीकी विश्लेषण के बीच क्या अंतर है”। निश्चिंत रहें, न तो यह अत्यंत जटिल है और कुछ समय और अभ्यास द्वारा समझना कठिन नहीं है, दोनों का उपयोग समग्र मुद्रा बाजार विश्लेषण (forex) में किया जाता है।

आधारभूत विश्लेषण पहले 3 बिंदुओं में चित्रित आर्थिक और राजनीतिक समाचारों पर अधिक आधारित है। जबकि, तकनीकी विश्लेषण के लिए मुद्रा जोड़े के वास्तविक ट्रेडिंग चार्ट के मूल्यांकन की आवश्यकता होती है।

एक अच्छी रणनीति एक या कुछ अलग-अलग मुद्रा जोड़े की पहचान करना और समय के दौरान उनके साथ परिचित होना है। आप आर्थिक समाचारों के आधार पर व्यवहार के पैटर्न को देख पाएंगे और साथ ही ये जोड़े कैसे ट्रेंड करते हैं और ट्रेंड से कैसे उलट जाते हैं।

उदाहरण के लिए, EUR/USD जोड़ी सबसे अधिक कारोबार की जाने वाली विदेशी मुद्रा परिसंपत्ति है। यह अमेरिकी और यूरोपीय आर्थिक आंकड़े जैसे कि ब्याज दर में बदलाव, बेरोजगारी और GDP प्रति संवेदनशील होंगे। हालांकि, तकनीकी विश्लेषण से पता चलता है कि 2015 पश्चात यह लगभग हमेशा 1.1 की विनिमय दर से ऊपर ट्रेड करेगा (1 यूरो 1.1 अमरीकी डालर के बराबर है)।

यहां गुलाबी क्षैतिज (हॉरिजॉन्टल) रेखा के साथ जोड़ी का 1 महीने का चार्ट है जो 1.1 स्तर पर जबरदस्त समर्थन दर्शा रहा है। जोड़ी के ऐतिहासिक व्यवहार को समझना उपयोगी होगा यदि/जब यह भविष्य में 1.1 स्तर के करीब पहुंच जाए तो समाचार के आधार पर ट्रेडिंग निर्णय कैसे लें।

आप कई ट्यूटोरियल्स (शिक्षण) का लाभ उठाकर प्लेटफॉर्म पर बाज़ार का तकनीकी विश्लेषण कैसे कर सकते हैं, इस सम्बन्ध में अपने कौशल में सुधार कर सकते हैं कि बाजार में कब और कैसे प्रवेश करना है और कब बाहर निकलना है। और अधिक, यदि ट्रेडर विदेशी मुद्रा की कई ट्रेडिंग रणनीतियों को लागू करते हैं जिसे कि प्लेटफार्म पर सीखी जा सकती हैं, तो वे अपनी लाभप्रदता को अधिकतम करने में सक्षम होंगे।

 

इन सिद्धांतों का उपयोग करके एक विशेषज्ञ बनें

ट्रेडर को विदेशी मुद्रा में विशेषज्ञ बनने और बाजारों का विश्लेषण करने के तरीके को समझने के लिए वित्त या अर्थशास्त्र में डिग्री की आवश्यकता नहीं है। आवश्यक सभी जानकारी मुफ्त में और ऊपर बताए गए विवरणों की तुलना में अधिक विस्तृत में उपलब्ध है।

ट्रेडिंग करते समय यहां चर्चा किए गए विचारों को ध्यान में रखते हुए अपने ट्रेडिंग व्यवहार में सुधार करें क्योंकि आपकी जागरूकता आपके बाजार विश्लेषण और निर्णय लेने की क्षमता को प्रभावित करेगी। हालांकि, अपने विश्लेषणात्मक कौशल को सुधारने और इसे लागू करने के लिए अतिरिक्त समय लेते हुए जब आप समाचार या प्रासंगिक जानकारी अन्य जगहों से लेते हैं, तो निश्चित रूप से इससे आपकी ट्रेडिंग सफलता दर में वृद्धि होगी।

ध्यान रखें, यदि आपका आधारभूत और तकनीकी विश्लेषण आपको प्रति सप्ताह $100 का एक और लाभ देता है, तो आप एक वर्ष में $5,000 डॉलर कमा चुके होंगे। इनाम निश्चित रूप से प्रयास के लायक है।

सम्बंधित लेख
Forex

लिवरेज: यह Olymp Trade पर कैसे काम करता है

Forex ट्रेडिंग बहुत सीधा है, लेकिन कुछ लोग लिवरेज पद्दति से भ्रमित हो सकते हैं। यहां, हम बता रहे हैं कि कैसे लिवरेज के साथ Olymp Trade पर ट्रेड किया जा सकता है।
Forex

Trailing Stop Loss टूल के साथ अपने मुनाफे को सुरक्षित करें

Trailing Stop Loss टूल ट्रेडर के शस्त्रागार में सबसे शक्तिशाली साधनों में से एक है। Trailing Stop Loss का उपयोग करके, निवेशक मुनाफे को लॉक इन कर सकते हैं और अचानक बाजार में बदलाव स...
Forex

Olymp Trade पर फॉरेक्स CFD ट्रेडिंग Spot Market से बेहतर है

ब्रोकर या परिसंपत्ति का चयन करते समय ट्रेडर के लिए Spot Market और CFD के बीच कई महत्वपूर्ण अंतर हैं। हम इस बात पर ज़ोर दे रहे हैं कि निवेशक को पारंपरिक समकक्ष की तुलना में CFD में ट...
Forex

स्विंग ट्रेडिंग: पेशेवरों के लिए एक ट्रेडिंग शैली

दिवसीय ट्रेडिंग की तुलना में स्विंग ट्रेडिंग अधिक फायदेमंद हो सकता है। आइए हम आपको इस तकनीक की ख़ासियतों के बारे में बताते हैं।
Forex

Olymp Trade पर विदेशी मुद्रा में ट्रेडिंग के लिए परिसंपत्तियां

Olymp Trade पर ट्रेड के लिए उपलब्ध मुद्रा जोड़ी, सूचकांक और अन्य परिसंपत्तियों की संपूर्ण सूची। अपने पसंदीदा इंस्ट्रूमेंट्स में ट्रेड करके शीर्ष पर पहुंचें।
आधिकारिक ओलिम्प ट्रेड ब्लॉग