Skip to content

भारतीय शेयर बाजार पर क्रिप्टो बाजार में भारी गिरावट का असर 17.05.2022

जानें कि क्रिप्टोकरेंसी में गिरावट भारतीय शेयर बाजार में आगामी गिरावट का संकेत क्यों है और अगले सप्ताह Sensex की अवस्था क्या हो सकती है।

विषय-वस्तु:

  • इस सप्ताह की प्रमुख क्रिप्टोकरेंसी गिरावट
  • भारतीय शेयर बाजार पर जोखिम
  • एक उद्योग जो कमजोर शेयर बाजार को मात दे सकता है

प्रिय ट्रेडर, आप चार्ट पर चिह्नित शब्दों और निश्चित स्थान द्वारा ब्लॉग के टेक्स्ट के साथ अंतर्क्रिया कर सकते हैं।

डैश किया हुआ नीले रंग का शब्द पर टैप करने से आपको इसकी परिभाषा या स्पष्टीकरण दिखाई देगा।

चार्ट या इमेज पर हरे रंग के बिंदु पर दबाने से आपको दृश्यात्मक स्वरूप में अतिरिक्त विवरण मिलेगा।

इस सप्ताह की प्रमुख क्रिप्टोकरेंसी गिरावट

Bitcoin और Ethereum फिलहाल अपने सबसे निचले स्तर पर कारोबार कर रहे हैं। इस सप्ताह की क्रिप्टोकरेंसी में गिरावट के पीछे दो प्रमुख कारक हैं।

पहला, दुनिया भर में बढ़ती ब्याज दरें। पिछले हफ्ते अमेरिकी फेडरल रिजर्व ने ब्याज दर को 0.5% से बढ़ाकर 1% कर दी थी। इसी तरह, भारतीय रिजर्व बैंक ने रेपो दर को 4% से बढ़ाकर 4.4% कर दिया है। आम तौर पर, बढ़ती ब्याज दरें बॉन्ड यील्ड (प्रतिफल) में बढ़त का कारण बनती है, और वे स्टॉक और क्रिप्टोकरेंसी जैसी जोखिम युक्त असेट की तुलना में निवेश के रूप में अधिक आकर्षक बन जाते हैं।

दूसरा कारक स्टेबल कॉइन्स Terra's UST का अनपेगिंग है जो पहले USD के साथ पेग (जुड़ा) था। इसने निवेशकों के बीच क्रिप्टोकरेंसी में भय और अविश्वास का संचार किया। साथ में, इस सप्ताह इन दो कारकों के चलते एक बड़ी क्रिप्टोकरेंसी गिरावट हुई।

Bitcoin चार्ट - Olymp Trade - विशेषज्ञ समीक्षा – 17.05.2022
चित्र 1. Bitcoin चार्ट
Ethereum चार्ट - Olymp Trade - विशेषज्ञ समीक्षा – 17.05.2022
चित्र 2. Ethereum चार्ट

भारतीय शेयर बाजार पर जोखिम

अगले हफ्ते Sensex कमजोर रह सकता है। उच्च रेपो दर, IMF के कम GDP पूर्वानुमान, तेल की बढ़ती कीमतों और कमजोर भारतीय रुपये ने मिलकर भारतीय शेयर बाजार की गिरावट में योगदान दिया। इस बीच, क्रिप्टोकरेंसी बाजार में गिरावट से पता चलता है कि कैसे निवेशक अधिक जोखिम युक्त असेट में विश्वास खो रहे हैं। भारतीय शेयर बाजार से FPI के हटने के कारण भारतीय विदेशी मुद्रा भंडार $600 बिलियन से नीचे गिर गया है।

Sensex सीमित दायरे में थोड़ा नकारात्मक रह सकता है। हमारा मानना ​​है कि यह अगले हफ्ते 52,500 के स्तर को छू सकता है। गंभीर गिरावट की अवस्था में Sensex 50,000 तक नीचे गिर सकता है।

Sensex इंडेक्स ग्राफ - Olymp Trade - विशेषज्ञ समीक्षा - 17.05.2022
चित्र 3. Sensex इंडेक्स, भारत

FMCG क्षेत्र बेअसर रह सकता है

शेयर बाजार की सामान्य गिरावट के दौरान FMCG एक प्रमुख बाजार क्षेत्र है। संभवत:, इस पर असर न पड़ने का प्राथमिक कारण यह है कि लोगों को हर समय खानपीन और बुनियादी घरेलू उत्पादों की आवश्यकता होती ही रहती है। इसलिए, जब बाजार में बड़ी गिरावट जारी है, FMCG क्षेत्र में तेजी है। बाज़ार पूंजीकरण के हिसाब से भारत की सबसे बड़ी FMCG कंपनी HUL का स्टॉक मूल्य प्रदर्शन अच्छी तरह से ऊपर की ओर इंगित करता है।

HUL ग्राफ - Olymp Trade - विशेषज्ञ समीक्षा - 17.05.2022
चित्र 4. HUL, भारत

जोखिम चेतावनी: लेख की सामग्री में निवेश की सलाह निहित नहीं है और आप अपनी ट्रेडिंग गतिविधि और/या ट्रेडिंग के परिणामों के लिए पूरी तरह से स्वयं जिम्मेदार हैं।

Stocks