आधारभूत विश्लेषण

Olymp Trade पर स्टॉक में ट्रेडिंग करना कभी इतना आसान नहीं हुआ

OT प्लेटफॉर्म पर कंपनी स्टॉक्स में ट्रेड के लिए कुछ शुरुआती रणनीतियां


यदि आप शेयर बाजार में कंपनी के शेयरों में ट्रेडिंग करना रुचि रखते हैं, तो अच्छी खबर है। Olymp Trade ने हाल ही में ट्रेडर के लिए प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध कंपनियों में एक बड़ा विस्तार किया है। Olymp Trade के स्टॉक ऑफ़र के नए जोड़ में Amazon, Alibaba, Exxon Mobil और अन्य शामिल हैं।

दीर्घकालिक और अल्पकालिक निवेश के लिए Olymp Trade प्लेटफॉर्म पर चुनने के लिए अब 30 से अधिक विभिन्न स्टॉक हैं। चाहे आप Fixed Time Trading मोड या तेजी से लोकप्रिय Forex मोड चुन सकते हैं, अब आप प्लेटफॉर्म पर अत्यंत-सफल कंपनियों को मुनाफा कमाने का साधन के रूप में देख सकते हैं |

विशेष रूप से निवेश करने के लिए शेयरों में ट्रेडिंग सबसे संतुलित तरीकों में से एक है अगर निवेश करते समय कंपनी की गुणवत्ता पर ध्यान दिया जाए। आमतौर पर, अच्छी प्रतिष्ठा और प्रबंधन के साथ दीर्घकालिक कंपनियों की समय के साथ मूल्य में लगातार वृद्धि होती है, जो निवेशकों के पोर्टफोलियो राशि में वृद्धि करता है।

ट्रेडर शॉर्ट-टर्म उछाल और गिरावट से सार्थक लाभ कमा सकते हैं जो समाचार से प्रेरित या कंपनी की लाभप्रदता का प्रतिबिंब होते हैं। यदि आप कंपनी के शेयरों (स्टॉक) में ट्रेडिंग के लिए नए हैं, तो इसे समझना, पूर्वानुमान करना और मापन अधिक कठिन हो सकता है।

Olymp Trade पर स्टॉक में बेहतरीन मुनाफा कैसे कमा सकते हैं, इसकी गति बढ़ाने में मदद हेतु, आपको दुनिया के कुछ सबसे बड़े और सबसे हाई प्रोफाइल परिसंपत्तियों में शेयर ट्रेडिंग शुरू करने के लिए यहां एक त्वरित गाइड दिया गया है।

हम आपको दो अलग-अलग मापदंडों पर ध्यान केंद्रित करके शुरू करने को कहेंगे, जो निर्धारित करता है कि किस स्टॉक में ट्रेड करना है और कब करना है: मूल्य रुझान (प्राइस ट्रेंड्स) और कंपनी मुनाफा (कंपनी प्रॉफिट)

 

प्राइस ट्रेंड के ऊपर ट्रेड करना

विज्ञान हमें बताता है कि एक गतिमान वस्तु गति में बनी रहती है और स्टॉक की कीमतें भी समान तरीके से व्यवहार करती है। यह विचार लगभग सभी नए निवेशकों को दी गई सलाह के लिए एक आधार बनाता है, कि “ट्रेंड के साथ ट्रेड करें, ट्रेंड आपका मित्र है।”

ट्रेंड ट्रेडिंग पद्धति के दर्जनों तरीके हैं और इन रणनीतियों पर विभिन्न प्रकार की विविधताएं भी हैं, लेकिन यहां एक सरल तरीका है जिसे आप लगभग तुरंत उपयोग कर सकते हैं और मूविंग एवरेज का उपयोग करके अधिकतर समय अच्छे मुनाफे कमा सकते हैं।

ऐसा करने के लिए, हम दो प्रकार के मूविंग एवरेज को संयोजन करने जा रहे हैं: सिंपल मूविंग एवरेज (SMA) और एक्स्पोनेंशियल मूविंग एवरेज (EMA) हमें एक ट्रेंड की पहचान करने और ट्रेंड में बदलाव का पूर्वानुमान लगाने में मदद करने के लिए, जो एक ट्रेंड के ऊपर आपके मुनाफे को अधिकतम करने में आपकी मदद करेगा।

Olymp Trade प्लेटफॉर्म में इस ट्रेंड रणनीति का उपयोग करने हेतु अपने चार्ट को बनाने के लिए आवश्यक सभी टूल हैं। नीचे दिए गए स्क्रीनशॉट दर्शाता है कि संकेतक बटन (लाल तीर) कहाँ है और SMA और EMA सूची के शीर्ष में हैं।

SMA संकेतक का चयन करके शुरू करें और आपको अपने चार्ट पर एक रेखा दिखाई देगी। हमारा SMA संकेतक हमारा दीर्घकालीन औसत होने जा रहा है, इसलिए रंग को लाल कर दें और संख्या को 55 पर सेट करें जो हमारी समय सीमा होगी। आप चार्ट पर संकेतक के बगल में छोटे “पेंसिल” आइकन पर क्लिक करके ऐसा कर सकते हैं।

EMA के लिए एक नीली रेखा और 20 की अवधि का उपयोग करके इस प्रक्रिया को दोहराएं। EMA हमारे अल्पकालिक ट्रेंड संकेतक के रूप में काम करेगा। नीचे दिए गए स्क्रीनशॉट दर्शाता है कि संकेतक को कैसे सेट करना है और आप देखेंगे कि Facebook स्टॉक चार्ट के लिए रेखाएं कैसे प्रदर्शित होती हैं, जो 1 दिन के लिए सेट है।

अब Facebook के लिए हमारा ट्रेंड चार्ट सेट हो गया है और हम देख सकते हैं कि अप्रैल के बाद से कीमत लगातार बढ़ रही है। हालांकि, दो ट्रेंड रेखाएं बहुत करीब आने लगी हैं जिसका मतलब है कि निकट भविष्य में ट्रेंड का उलटा असर पड़ सकता है।

आम तौर पर, ट्रेंड पर ट्रेड करते समय, आपको उन बिंदुओं को खोजना चाहिए जहां अल्पकालिक ट्रेंड (नीली रेखा) विपरीत दिशा में दीर्घकालिक ट्रेंड (लाल रेखा) से गुजरती है। जब ऐसा होता है, तो इस बात की प्रबल संभावना होती है कि ट्रेंड पलट रही है और आप तदनुसार एक अप या डाउन पोजीशन खोल सकते हैं।

यदि आप Facebook चार्ट को पलटकर देखते हैं, तो आप देखेंगे कि इस वर्ष के फरवरी के अंत में और मई के अंत में ट्रेंड रिवर्सल हुआ है।

दोनों मामलों में, जब नीली रेखा लाल रेखा को पार करती है, इस समय पर पोजीशन खोलना सार्थक लाभ प्रदान करेगा, बशर्ते ट्रेडर ट्रेंड पलटने से पहले उस पोजीशन से बाहर निकल जाता है।

आप किसी भी स्टॉक के लिए और किसी भी समय सीमा के लिए इस ट्रेंड की रणनीति का अनुसरण कर सकते हैं, लेकिन ब्लू-चिप स्टॉक के लिए, 15 मिनट जितने बेहद कम समय में इसे करने की सलाह नहीं दी जाती है जब तक कि आप “स्केलिंग” रणनीति का उपयोग नहीं कर रहे हैं, जो कि थोड़ा और अधिक एडवांस्ड है।

 

लाभदायक कंपनियों की आय में हिस्सेदारी

किसी कंपनी स्टॉक के शेयरों का मूल्य उसकी लाभप्रदता के ऊपर सबसे अधिक आधारित होता है। इस नियम के अपवाद भी हैं, लेकिन उनमें से अधिकांश इस अनुमान पर आधारित है कि भविष्य में वे कंपनियां बेहद लाभदायक रहेंगी – उदाहरण के लिए Facebook और Tesla को देखें (दोनों Olymp Trade पर ट्रेड के लिए उपलब्ध हैं।)

हालांकि, साधारणत:, यदि कोई कंपनी लाभ अर्जित करना जारी रखती है, और इसे अपने शेयरधारकों को वितरित करता है, तो उस कंपनी के स्टॉक की कीमत में वृद्धि जारी रहेगी। दीर्घकालिक निवेशकों के लिए, यह महत्वपूर्ण है क्योंकि वे न केवल अपने लाभ का हिस्सा नियमित रूप से लेना चाहते हैं, बल्कि वे किसी भी एक समय में अपने स्टॉक को लाभ में बेचना भी चाहते हैं।

इसलिए, केवल लाभदायक कंपनियों के स्टॉक में ट्रेड करने की अत्यधिक सलाह दी जाती है क्योंकि इसमें बहुत कम जोखिम शामिल होता है, और निरंतर अपसाइड संभावना रहता है। इन स्टॉक में ट्रेड के सम्बन्ध में प्रमुख मुद्दा उनके वास्तविक मूल्य को समझना है।

सौभाग्य से, इन कंपनियों में खुले ढंग से कारोबार किया जाता है, इसलिए उन्हें लाभ की रिपोर्ट करना और वे प्रत्येक शेयरधारक को लाभांश में कितना भुगतान करेंगे यह घोषणा करना आवश्यक होता है। वे हर तिमाही ऐसा करते हैं और आप जान सकते हैं कि ये घोषणाएं आर्थिक कैलेंडर में कब की जाएगी।

नज़र डालने के लिए यहाँ कुछ महत्वपूर्ण आंकड़े हैं कि वास्तव में एक कंपनी कितनी फायदेमंद है और वास्तविकता में उनका स्टॉक कितना मूल्यवान है। आप इन सभी आंकड़ों को कंपनी की वेबसाइट पर या बाज़ार समाचार संगठनों से ऑनलाइन पा सकते हैं।

1. प्रति शेयर आय (EPS) — एक साधारण कंपनी में, यदि लाभ $100 था और स्टॉक के 100 शेयर थे, तो स्टॉक शेयर के प्रत्येक शेयरधारक को $1 प्राप्त होगा। दुर्भाग्य से, यह बड़ी ब्लू-चिप कंपनियों में नहीं होता है जहां स्टॉक के विभिन्न प्रकार होते हैं, जिन्हें “प्रेफर्ड स्टॉक” या “प्रीमियम शेयर” कहा जाता है।

इसलिए, वास्तविक EPS “प्रेफर्ड डिवीडेंट्स (लाभांश)” भुगतान के बाद शेष शेयरों की मात्रा से विभाजित लाभ की राशि है।

2. मूल्य से आय अनुपात (P/E Ratio) — यह आंकड़ा पिछले 12 महीनों की कमाई से विभाजित शेयर की वर्तमान कीमत को दर्शाता है। इसे “ट्रेलिंग P/E” के रूप में भी जाना जाता है। वैकल्पिक रूप से, अगले 12 महीनों के अनुमानित लाभ से विभाजित मौजूदा स्टॉक मूल्य को “फॉरवर्ड P/E” कहा जाता है।

आप कैसे जान सकते हैं कि कंपनी की P/E अच्छी है? यहां कोई आसान जवाब नहीं है क्योंकि उच्च P/E संकेत कर सकता है कि एक स्टॉक अधिमूल्य (ओवरप्राइस्ड) है और पीक (उच्च) हो चुका है और कम P/E भविष्य के लिए खराब संभावनाओं का संकेत हो सकता है।

हालांकि, हम कुछ निश्चितता के साथ समझ सकते हैं कि कंपनी का मूल्य अभी क्या है और इससे निवेश पर पूर्वानुमान और रणनीति निर्धारित करने में मदद मिलेगी।

3. डेट(ऋण)-इक्विटी अनुपात (D/E) — यह आंकड़ा दर्शाता है, सामान्य तौर पर, किसी कंपनी के पास स्टॉक के सभी शेयरों के कुल मूल्य के अनुरूप कितना ऋण है। एक उच्च D/E संकेत कर सकता है कि कंपनी बड़े ऋण के भरोसे विस्तार और विकास का वित्तपोषण कर रही है और / या उसके स्टॉक मूल्य मौजूदा ऋणों की गति से हम कदम नहीं है।

यह एक प्रमुख टूल है जो एक बैंक किसी व्यक्ति या कंपनी को ऋण देने से पहले देखता है इसलिए आपको अपना धन ख़राब D/E युक्त कंपनियों में निवेश करने से पहले यही करना चाहिए।

4. इक्विटी में मुनाफा (ROE) — यह आंकड़ा निवेशकों को दर्शाता है कि निवेश की मात्रा के अनुरूप मुनाफा कमाने में कंपनी प्रबंधन कितना कुशल है। गणना इस प्रकार है: कुल आय से प्रेफर्ड डिवीडेंट्स (लाभांश) घटाकर, इसे शेयरधारक इक्विटी (शेयर का मूल्य) द्वारा विभाजित।

सामान्यतया, यदि ROE 10% से कम है, तो इसे अधिकांश विश्लेषक मानकों के अनुसार “खराब” माना जाता है। S&P 500 कंपनियों के लिए 14% औसत के लगभग है इसलिए उस बिंदु पर या उससे ऊपर कुछ भी सकारात्मक होगा।

निर्णय लेने में इन आंकड़ों का उपयोग करना उन सभी कारकों, जो आंकड़ों की गणना, को समझने की तुलना में कम जटिल हो सकता है।

लंबी अवधि के निवेशकों के लिए, अच्छी EPS, P/E अनुपात, D/E और ROE दर्शाने वाली कंपनियां अपसाइड को खरीदने के लिए सार्थक विकल्प हो सकती है। बेशक, Olymp Trade पर इस्तेमाल होने वाले कॉन्ट्रैक्ट ऑन डिफरेंस (CFD) के ऊपर मुनाफा कमाने में अधिक समय लग सकता है।

हालांकि Olymp Trade के कम रोलओवर कमीशन (ओवरनाइट फीस) और गुणक के उपयोग से, निवेशक अर्थपूर्ण लाभ कमाने में अपेक्षाकृत सुरक्षित रास्ता अपना सकते हैं।

अल्पकालिक निवेशकों के लिए, इन मापदंडों को समझने से आपको पोजीशन खोलने के लिए कुछ अप और डाउन अवसरों की पहचान करने में मदद मिलेगी। उदाहरण के लिए, जब किसी कंपनी का EPS पूर्वानुमान की अपेक्षा कम होता है, तो स्टॉक अक्सर थोड़े समय के लिए गिर जाता है।

इसका मतलब है कि एक ट्रेडर घोषणा के बाद एक डाउन पोजीशन ले सकता है, कुछ लाभ के साथ पोजीशन को बंद कर सकता है और फिर “बाउंस” के ऊपर एक अप पोजीशन लेकर मुनाफा कमा सकते हैं क्योंकि ब्लू-चिप स्टॉक प्राय हमेशा लंबी अवधि में ऊपर की ओर रुझान करता है।

 

स्टॉक में ट्रेडिंग केवल अमीर लोगों के लिए नहीं है

स्टॉक पर अपने नए ज्ञान का उपयोग करके और Olymp Trade जैसा एक पेशेवर टूल्स प्रदान करने वाला ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म से जुड़कर, आप एक साधारण निवेश को आरामदायक जीवन या पर्याप्त सेवानिवृत्ति में बदल सकते हैं।

आपके पास उपलब्ध संसाधनों का लाभ उठाना और निरंतर अपने ट्रेडिंग कौशल को विकसित करना ही मूल उपाय है। बेशक, आपको सभी प्रमुख बाजारों और प्रीमियम परिसंपत्तियों तक पहुंच प्रदान करने वाला कोई एक प्लेटफार्म के बिना यह मायने नहीं रखता है।

सौभाग्य से, Olymp Trade आपको पहुँच के साथ साथ अपने कौशल को विकसित करने के लिए आवश्यक सभी संसाधनों और प्रशिक्षण प्रदान करता है। केवल उन “अमीर” लोगों में शामिल होने का काम बाकी है जो इन स्टॉक्स और अन्य उच्च लाभकारी परिसंपत्तियों में पहले से ट्रेड कर रहे हैं।

सम्बंधित लेख
आधारभूत विश्लेषण

कैसे Earnings Season के दौरान Olymp Trade पर ट्रेड करें

Earnings Season वह अवधि है जब सबसे बड़ी कंपनियां अपने तिमाही वित्तीय परिणाम जारी करती हैं। ट्रेडरों के लिए यह सबसे अधिक लाभदायक समय है।  
आधारभूत विश्लेषण

आर्थिक संकट के दौरान लाभकारी ढंग से ट्रेड करने के लिए रणनीतियाँ

दुनिया भर में Covid 19 समस्याओं के बावजूद, बाजार अभी भी निवेशकों को बाजार में लाभ कमाने के सार्थक अवसर प्रदान कर रहा है। हमने ट्रेडों के लिए संभावित प्रवेश बिंदुओं की पहचान करने के...
अर्थ-प्रवंधन

क्रिप्टो में निवेश शुरू करें

यदि आप इस नई डिजिटल मुद्रा में रुचि रखते हैं, लेकिन यह सुनिश्चित नहीं कर पा रहे हैं कि आपको निवेश कैसे करना चाहिए या नहीं, तो यह मार्गदर्शिका आपको यह समझने में मदद करेगी कि क्रिप्ट...
आधारभूत विश्लेषण

अमेरिकी डॉलर सूचकांक चार्ट

अधिकांश ट्रेडरों के लिए, बेसिक डॉलर इंडेक्स काफी जटिल परिसंपत्ति है। हालांकि, अगर आपको इस टूल के बारे में बेहतर जानते हैं, तो यह आपको बाजार की चाल को समझने और हमारे प्लेटफॉर्म पर अ...
तकनिकी विश्लेषण

आधारभूत बनाम तकनीकी विश्लेषण: अंतर को समझना

आधारभूत और तकनीकी विश्लेषण किसी परिसंपत्ति के मूल्य विश्लेषण करने के दो तरीके हैं। प्रत्येक शैली अपने फायदे और नुकसान प्रस्तुत करती है, लेकिन उनका उपयोग को समझकर, आप अपने ट्रेडिंग...
आधारभूत विश्लेषण

पूर्वानुमान: 2020 के उत्तरार्ध के लिए सर्वश्रेष्ठ स्टॉक विकल्प

हम उन क्षेत्रों पर एक नज़र डालेंगे, जिनमें 2020 के चुनौतीपूर्ण कारोबारी साल को समापन करने की सबसे अधिक संभावना है। ध्यान व्यक्तिगत शेयरों पर नहीं है, बल्कि उन क्षेत्रों पर है जो नि...
आधिकारिक ओलिम्प ट्रेड ब्लॉग