Forex

Olymp Trade पर फॉरेक्स CFD ट्रेडिंग Spot Market से बेहतर है

CFD और Spot Market के बीच अंतर पर एक सक्षिप्त गाइड


आप में से कई पहले से ही अपने आप से (और हमसे) पूछ रहे हैं, “Spot Market और CFD क्या हैं?” चिंता न करें यदि आप पहले से ही नहीं जानते हैं क्योंकि हम ट्रेड के लिए इन दो प्रकार के तंत्रों को समझने के लिए आधारभूत बातों को समावेश करने जा रहे हैं, कि वे अलग क्यों हैं, और हम क्यों मानते हैं कि CFD Olymp Trade के लिए बेहतर हैं।

विदेशी मुद्रा ट्रेडिंग, जिसे कभी-कभी Fx या फॉरेन एक्सचेंज के रूप में वर्णित किया जाता है, में Spot Market, स्प्रेड बेटिंग, फ्यूचर्स, ऑप्शन, CFD और अन्य सहित निवेशकों के लिए विभिन्न प्रकार के ट्रेडिंग माध्यम उपलब्ध हैं।

आइए दो सबसे लोकप्रिय तरीकों पर ध्यान दें – Spot Market और कॉन्ट्रैक्ट्स फॉर डिफरेंस (CFD)। इन दोनों बाजारों में कुछ अच्छाइयां और बुराइयां हैं जो इस बात पर निर्भर करता है कि आपके ट्रेडिंग लक्ष्य क्या है, लेकिन हमें ज्ञात हैं कि ज्यादातर Olymp Trade के ग्राहक Spot Market बनाम CFD को पसंद करते हैं।

यह समझने के लिए कि क्यों, “Spot Market” असल में क्या है और यह कैसे कार्य करता है, यह बताकर शुरू करते हैं।

 

Spot Market

Spot Market एक अधिक पारंपरिक बाजार है जहां एक विक्रेता और खरीदार ट्रेड मूल्य पर सहमत होते हैं और ट्रेड में शामिल दो परिसंपत्तियों का आदान-प्रदान तुरंत किया जाता है – “मौके पर ही”। हालांकि, वास्तव में अधिकांश परिसंपत्तियों के लिए यह मौके पर ही नहीं किया जा सकता है क्योंकि परिसंपत्तियों के वितरण की व्यवस्था करने की आवश्यकता होती है ।

उदाहरण के लिए, आप एक स्टॉक के 100 शेयरों को प्रति शेयर 100 अमेरिकी डॉलर में खरीदना चाहते हैं। विक्रेता इन शेयरों को उसी मूल्य पर बेचने के लिए सहमत होता है और आप भी तुरंत भुगतान करने के लिए तैयार होते हैं, लेकिन उन्हें स्टॉक प्रमाणपत्रों को आपको हस्तांतरित करने की व्यवस्था करने की आवश्यकता होती है और उनके पास वास्तविक प्रमाण पत्र नहीं है।

इस मामले में, मानक T+2 है, जिसका अर्थ है लेन-देन की तारीख से लेनदेन पूर्ण करने के लिए 2 व्यावसायिक दिन। प्रमाण पत्र प्राप्त करने में लगने वाले दो दिनों में स्टॉक में हुए किसी भी मूल्य में बदलाव के बावजूद मूल्य निर्धारित रहता है और बदलता नहीं है।

एक अन्य उदाहरण विदेशी मुद्रा बाजार में दो मुद्राओं का विनिमय होगा। आप जापानी सामान खरीदना चाहते हैं, लेकिन आपको ऐसा करने के लिए येन की आवश्यकता पड़ती है। इसलिए, आप एक एक्सचेंज में जाते हैं और अपने USD के साथ स्पॉट प्राइस पर येन खरीदते हैं और तुरंत अपना येन प्राप्त करते हैं ताकि आप अपनी खरीदारी कर सकें।

कई एक्सचेंज तुरंत लेनदेन व्यवहार करते हैं, लेकिन यदि आप एक बड़े बाजार में जाते हैं, तो वास्तव में अपना येन प्राप्त करने से पहले 2 दिन की लेनदेन सीमा लागू हो सकती है (T+2)।

तेल और सोने जैसी कमोडिटी के लिए, डिलीवरी हेतु अधिक समय लग सकता है और अक्सर भविष्य में एक निश्चित समय पर इस विनिमय को करने के लिए एक फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट का उपयोग किया जाता है।

Spot Market की सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि दोनों पक्षों के बीच वास्तविक विनिमय घटित होता है।

 

कॉन्ट्रैक्ट्स फॉर डिफरेंस (CFD)

क्या होगा यदि आप वास्तव में किसी परिसंपत्ति की डिलीवरी लेना नहीं चाहते हैं और लाभ हेतु उस परिसंपत्ति को फिर से बेचना चाहते हैं क्योंकि आपको लगता है कि भविष्य में इस परिसंपत्ति की मूल्य में वृद्धि होगी? क्या होगा अगर आपको लगता है कि भविष्य में परिसंपत्ति की मूल्य में गिरावट आएगी और आप इस गिरावट से लाभ हासिल करना चाहते हैं?

इसलिए यह CFD निवेशकों के लिए एक लाभदायक वित्तीय साधन हो सकता है और Olymp Trade जैसे ब्रोकरों ने विशेष रूप से इस प्रकार के ट्रेड के लिए मंच निर्मित किए हैं।

CFD में, निवेशक अपने ब्रोकर के साथ एक परिसंपत्ति के भविष्य में होने वाली कीमत के आधार पर एक समझाता करता है, चाहे वह मूल्य मौजूदा “स्पॉट” मूल्य से कम या अधिक हो। इस मामले में, ब्रोकर किसी अन्य निवेशक के बजाय लेनदेन में दूसरा पक्ष बन जाता है और भविष्य में परिसंपत्ति की कीमत में कॉन्ट्रैक्ट फॉर द डिफरेंस करता है।

यहाँ एक प्रतीकात्मक उदाहरण है:

आप मानते हैं कि कैनेडियन डॉलर (CAD) की कीमत में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले निकट भविष्य में वृद्धि होगी। फोरेक्स मुद्रा जोड़ी USD/CAD बाजार आपकी भविष्यवाणी के ऊपर मूलभूत बाजार के रूप में काम करता है।

यदि CAD का मूल्य USD के सापेक्ष बढ़ता है, तो इसका मतलब है कि USD को खरीदने के लिए आपके पास आवश्यक राशि बढ़ जाती है, इसलिए आप मौजूदा मूल्य पर बाय ऑर्डर करते हैं। यदि किसी भी समय आप लेनदेन को रद्द करना चाहते हैं, तो आप समझौते को समाप्त कर सकते हैं और दो कीमतों के बीच के अंतर राशि को प्राप्त कर सकते हैं।

आपके पूर्वानुमान के अनुरूप यदि मूल्य $50 अमेरिकी डॉलर से ऊपर चला जाता है, तो आप लेनदेन के ऊपर अन्य कमीशन काटकर $50 का लाभ हासिल करेंगे।

आप उसी तरह से CFD बेच भी सकते हैं। प्रमुख बात यह है कि अंतर्निहित परिसंपत्ति उस दिशा में आगे बढ़ती है, जिसकी आपने भविष्यवाणी की थी और उस दिशा में गतिविधि जितनी बड़ी होगी, उतना ही बड़ा आपका लाभ होगा।

एक पारंपरिक Spot Trade के विपरीत, आप वास्तव में परिसंपत्ति धारण करते हैं और इसे फिर से किसी अन्य पार्टी से ट्रेड करते हैं जो खरीदने में रुचि रखते हों।

 

Olymp Trade पर CFD के लाभ

Spot Market के ऊपर Olymp Trade पर विदेशी मुद्रा CFD का उपयोग से ट्रेडर को कई फायदे हासिल होते हैं |

1.परिसंपत्ति को ग्रहण करने/डिलीवरी करने की आवश्यकता नहीं होती है

जैसे कि हमने पहले बताया, चूंकि ज्यादातर ट्रेडर किसी विशेष परिसंपत्ति को स्थायी रूप से रखने में रुचि नहीं रखते हैं, वे केवल एक परिसंपत्ति के मूल्य पर अधिक आसानी से ट्रेड कर सकते हैं और इससे लेनदेन की लागत और परेशानी कम हो जाती है।

2. परिसंपत्ति ग्रहण करे बिना मार्केट्स के डाउनवर्ड मूवमेंट के ऊपर लाभ कमाएं

CFD के साथ बाजारों के डाउनवर्ड गतिविधि से लाभ लेना संभव है, जिसमें वास्तव में “शॉर्ट” करने के लिए परिसंपत्ति को ग्रहण करने की आवश्यकता नहीं है और इसे “शॉर्टेड” मूल्य या समय के आधार पर खरीदने की भी आवश्यकता नहीं है।

जब बाजार नीचे जा भी रहा हो तब भी आप सार्थक लाभ कमा सकते हैं।

3. Olymp Trade के मल्टीप्लायर के साथ बेहतर लीवरेज प्रणाली

Olymp Trade मल्टीप्लायर प्रणाली का उपयोग करते हुए, ट्रेडर अपने निवेश की राशि से 500 गुना अधिक तक CFD कर सकते हैं, जिससे ट्रेड अधिक लाभदायक हो जाता है। इसके अतिरिक्त, क्योंकि मल्टीप्लायर एक ठेठ लीवरेज की तरह कार्य नहीं करता है, ट्रेडर केवल अपनी निवेश की गई राशि को जोखिम में डाल रहे होते हैं, न कि उधार ली गई (लीवरेज) राशि को।

यदि आप अपने स्वयं के पैसों से $100 अमेरिकी डॉलर ट्रेड करते हैं और Olymp Trade आपको 500x का एक गुणक देता है, तो आप मूल्य गतिविधि पर एक सही पूर्वानुमान के साथ 500 गुना लाभ कमा सकेंगे। इस मामले में, चुने हुए दिशा में केवल 1% की एक छोटी सी गतिविधि से भी ट्रेडर को कमीशन काटकर $500 USD का लाभ हो सकता है ।

सबसे अच्छी बात यह है कि यदि मूल्य गलत दिशा में भी जाता है, तो आप केवल $100 अमेरिकी डॉलर की अपनी निवेशित राशि को ही खोएंगे और आपके $100 अमेरिकी डॉलर खोने से पहले आप हमेशा इस स्थिति से बाहर निकल सकते हैं। प्लेटफ़ॉर्म के Stop Loss Function का लाभ उठाने से, Spot Market की तुलना में काफी कम जोखिम होता है क्योंकि आपको अपने मूल्य को खरीदने के लिए किसी अन्य ट्रेडर को खोजने की आवश्यकता नहीं है।

 

निष्कर्ष

बाजार में केवल Spot और CFD ट्रेडिंग के अलावा ट्रेड करने के कई अलग-अलग तरीके हैं। यह विदेशी मुद्रा के साथ विशेष रूप से सही है, जिसमें स्प्रेड बेटिंग, डिजिटल ऑप्शन और अन्य जैसे प्रकार हैं। हालांकि, CFD के उपयोग के फायदे अन्य विदेशी मुद्रा ट्रेड विधियों की तुलना में बहुत स्पष्ट है।

यह जानना आसान है कि CFD भारत, मलेशिया, इंडोनेशिया, अफ्रीका और दक्षिण अमेरिका में विदेशी मुद्रा ट्रेड जैसे उभरते ट्रेडिंग बाजारों में क्यों लोकप्रिय है। केवल $10 अमेरिकी डॉलर के एक छोटे से जमा के साथ, ट्रेडर कम जोखिम के साथ सार्थक लाभ अर्जित करने के लिए Olymp Trade मल्टीप्लायर का लाभ उठा सकते हैं।

यदि आप अभी भी Olymp Trade प्लेटफार्म के विदेशी मुद्रा पक्ष का उपयोग नहीं कर रहे हैं, तो अब आपके पास शुरू करने के लिए कुछ अच्छे कारण हैं।

सम्बंधित लेख
Forex

Forex ट्रेडिंग के महत्वपूर्ण कारक

Forex बाजार विभिन्न कारकों से प्रभावित होते हैं। दीर्घकालिक अवधि में सफल ट्रेडिंग के लिए Olymp Trade Forex मोड में किन चीज़ों से परिसंपत्तियां प्रभावित होती हैं, समझना आवश्यक है।
Forex

लिवरेज: यह Olymp Trade पर कैसे काम करता है

Forex ट्रेडिंग बहुत सीधा है, लेकिन कुछ लोग लिवरेज पद्दति से भ्रमित हो सकते हैं। यहां, हम बता रहे हैं कि कैसे लिवरेज के साथ Olymp Trade पर ट्रेड किया जा सकता है।
Forex

Trailing Stop Loss टूल के साथ अपने मुनाफे को सुरक्षित करें

Trailing Stop Loss टूल ट्रेडर के शस्त्रागार में सबसे शक्तिशाली साधनों में से एक है। Trailing Stop Loss का उपयोग करके, निवेशक मुनाफे को लॉक इन कर सकते हैं और अचानक बाजार में बदलाव स...
Forex

Olymp Trade पर विदेशी मुद्रा में ट्रेडिंग के लिए परिसंपत्तियां

Olymp Trade पर ट्रेड के लिए उपलब्ध मुद्रा जोड़ी, सूचकांक और अन्य परिसंपत्तियों की संपूर्ण सूची। अपने पसंदीदा इंस्ट्रूमेंट्स में ट्रेड करके शीर्ष पर पहुंचें।
Forex

स्विंग ट्रेडिंग: पेशेवरों के लिए एक ट्रेडिंग शैली

दिवसीय ट्रेडिंग की तुलना में स्विंग ट्रेडिंग अधिक फायदेमंद हो सकता है। आइए हम आपको इस तकनीक की ख़ासियतों के बारे में बताते हैं।